क्रोध को छोड़ देना

पांच दिन

क्रोध सबसे प्रबल भावनाओं में से एक है – यह लाभकारी और प्रेममय भी हो सकता है, और विनाशकारी और स्वार्थपरायण भी हो सकता हैl हमारी प्रतिदिन की रोटी में से इन पांच चिन्तनों को पढ़ते हुए अपने क्रोध को परमेश्वर के हवाले कर देने के विषय में और अधिक जानेंl

Publisher

हम इस योजना को प्रदान करने के लिए हमारी दैनिक रोटी - भारत का शुक्रिया अदा करना चाहते हैं। अधिक जानकारी के लिये कृपया यहां देखें: https://hindi-odb.org/subscription/?utm_source=YouVersion&utm_campaign=Hindi_Anger

About The Publisher