मन की युद्धभूमि

100 दिन

जीवन कभी-कभी हम में किसी को भी ध्यान ना देते समय पकड़ सकता है। जब आप के मन में युद्ध चलना आरम्भ होता है, दुश्मन परमेश्वर के साथ आपके संबंध को कमजोर करने के लिए उसके शस्त्रगार से प्रत्येक शस्त्र को इस्तेमाल करेगा। यह भक्तिमय संदेश आपको क्रोध, उलझन, दोष भावना, भय, शंका. . .आप किसी का भी नाम ले, उस पर जय के लिए आशा की प्रेरणा के साथ तैयार करेगा। यह अन्र्तदृष्टि आपको उलझन और झूठ में ले जाने की किसी भी साजिश का पता लगाने, विनाशकारी विचार के ढंगो का सामना करने, अपनी सोच को बदलने में जय को पाने, ताकत उत्साह प्राप्त करने, और सबसे महत्वपूर्ण आपके मन में प्रत्येक लड़ाई पर जय पाने में आपकी सहायता करेगी। आपके पास वापस लड़ाई लड़ने के लिए शक्ति है और यह आवश्यक है कि आप ऐसा करें. . . चाहे कि यह एक दिन में एक बार हो!

Publisher

हम इस पढ़ने की योजना प्रदान करने के लिए जॉइस मेयर मिनिस्ट्रीज इंडिया को धन्यवाद देना चाहेंगे। अधिक जानकारी के लिए, कृपया देखें: https://www.facebook.com/JoyceMeyerMinistries.Hindi

About The Publisher