उत्पत्ति 1:2

उत्पत्ति 1:2 IRVHIN

पृथ्वी बेडौल और सुनसान पड़ी थी, और गहरे जल के ऊपर अंधियारा था; तथा परमेश्वर का आत्मा जल के ऊपर मण्डराता था। (2 कुरि. 4:6)
IRVHIN: इंडियन रिवाइज्ड वर्जन (IRV) हिंदी - 2019
Share