भजन संहिता 116:3

भजन संहिता 116:3 HINDI-BSI

मृत्यु की रस्सियाँ मेरे चारों ओर थीं; मैं अधोलोक की सकेती में पड़ा था; मुझे संकट और शोक भोगना पड़ा।
HINDI-BSI: Hindi O.V. - Re-edited (BSI)
Share