भजन संहिता 115:18

भजन संहिता 115:18 HINDI-BSI

परन्तु हम लोग याह को अब से लेकर सर्वदा तक धन्य कहते रहेंगे। याह की स्तुति करो!
HINDI-BSI: Hindi O.V. - Re-edited (BSI)
Share