यशायाह 47:10

यशायाह 47:10 HINDI-BSI

तू ने अपनी दुष्‍टता पर भरोसा रखा, तू ने कहा, “मुझे कोई नहीं देखता;” तेरी बुद्धि और ज्ञान ने तुझे बहकाया और तू ने अपने मन में कहा, “मैं ही हूँ और मेरे सिवाय कोई दूसरा नहीं।”
HINDI-BSI: Hindi O.V. - Re-edited (BSI)
Share